Bihar: मुजफ्फरपुर जिले के कटरा थाना क्षेत्र के एक किसान के खाते में अचानक पहुँच गए 52 करोड़ रुपये

मुजफ्फरपुर जिले के कटरा थाना क्षेत्र के एक बुजुर्ग किसान के खाते में अचानक पहुँच गए 52 करोड़ रुपये। बुजुर्ग का नाम राम बहादुर साह है। बुजुर्ग ने कहा कि हम खेती-किसानी करके जीवन यापन करते हैं। सरकार से यही मांग है कि उस राशि से कुछ हमें भी मुहैया करा दिया जाए।

Bihar Muzaffarpur: बिहार में बीते कुछ दिनों से लोगों के बैंक अकाउंट में अचानक से ढेर सारे रुपये आने के कई मामले आ चुके हैं, ऐसा लग रहा है मानो धन की बारिश हो रही हो। बीते दिन बिहार के कटिहार में छठवीं क्लास के दो बच्चों के खातों में 967 करोड़ रुपये ट्रांसफर होने की खबर आई थी। स्थानीय कटिहार डीएम इसकी जांच करवा ही रहे थे कि एक और व्यक्ति के बैंक खाते में मोटी रकम आने की खबर सामने आयी हैं।

खबर के मुताबिक, बिहार के एक बुजुर्ग राम बहादुर साह जो मुजफ्फरपुर के रहने वाले है, उनके बैंक खाते में अचानक 52 करोड़ रुपये आ गए। ये बात इतनी तेजी से फैली की लोग बुजुर्ग के पास पहुंचने लगे। वे हैरान हैं कि अचानक उनके खाते में इतनी बड़ी रकम आई कहां से।

आइये जानते है पूरा मामला

खबर मुजफ्फरपुर जिले के कटरा थाना क्षेत्र का है। एक बुजुर्ग किसान जिनका नाम राम बहादुर साह है वो अपनी वृद्धा पेंशन की राशि चेक करवाने के लिए एक सीएसपी संचालक के पास गए थे। उन्होंने खाता चेक करवाने के लिए संचालक को अपना आधार कार्ड दिया। फिर अंगूठा लगाया और बैलेंस सामने आया, 52 करोड़ रुपये। ये सुनकर सब हैरान हो गए कि आखिर इतनी बड़ी रकम कहां से आई।

ये देखकर सीएसपी संचालक चौंक गया। बस बात इलाके में जंगल की आग की तरह फैल गई। मीडिया को भनक लगते ही इसकी जानकारी लेने के लिए घटनास्थल पर मीडियाकर्मी पहुंचे तो राम बहादुर ने बताया कि वो तो वृद्धा पेंशन को लेकर नजदीकी सीएसपी संचालक के पास पहुंचे थे। उनके मुताबिक, सीएसपी संचालक ने उन्हें बताया कि उनके खाते में 52 करोड़ रुपये से अधिक रकम आ चुकी है।

See also  पंजाब: 15 सितंबर तक सभी कर्मचारियों को लगाना होगा टीका, नहीं तो घर बैठना होगा

सरकार से मदद की गुहार

अब राम बहादुर साह के खाते में 52 करोड़ रुपये आने की बात जैसे ही मीडिया में फैली तो उनके बेटे सुजीत कुमार ने सरकार से अपील की। उन्होंने कहा, ‘हमारे पिताजी के खाते में 52 करोड़ से अधिक रकम आई है। हम लोग खेती किसानी करते हैं। खाते में राशि देखकर हम काफ़ी परेशान हैं। हम लोग सरकार से यही मांग करते हैं कि हमारी कुछ मदद की जाए। क्योंकि हम लोग काफ़ी गरीब परिवार से आते हैं ’।

कटरा थाने के सब-इंस्पेक्टर मनोज पांडे ने कहा, “सिंगारी में एक बुजुर्ग के खाते में 52 करोड़ से अधिक राशि आई है। फिलहाल हम लोगों ने स्थानीय चौकीदार को इस मामले की सूचना दे दी है। हम लोगों को जो सीनियर ऑफिसर आदेश देंगे हम वहीं करेंगे। पुलिस पदाधिकारी पूरे मामले की छानबीन करेंगे और जिस बैंक में उनका खाता है वहां के पदाधिकारी से भी पूछताछ करेंगे.”, उन्होंने बताया कि ये खबर स्थानीय लोग और मीडिया के माध्यम से उन्हें मिली।

वैसे कटिहार वाले मामले में पता चला था कि दो बच्चों के खाते में कुल 967 करोड़ रुपये कैसे आ गए थे। दरअसल, पैसे आए नहीं थे, बल्कि सॉफ्टवेयर में किसी गड़बड़ी की वजह से इतनी बड़ी रकम दिख रही थी। जिलाधिकारी उदयन मिश्रा ने बताया था कि बच्चों के खातों की स्टेटमेंट निकलवाई गई थी। उसमें बैलेंस 100 रुपये ही निकला था। अब राम बहादुर साह के मामले में क्या है, ये पता चलते ही हम आपको जरूर बताएंगे।