अमेरिका ने लिया बदला, मारा गया काबुल ब्लास्ट का IS मास्टरमाइंड आतंकी

काबुल सीरियल धमाकों के जवाब में अमेरिका ने ISIS-K पर एयर स्ट्राइक की है। ऐसी खबरें हैं कि एयर स्ट्राइक से ISIS-K को भारी नुकसान हुआ है। अमेरिकी ड्रोन से ISIS-K को निशाना बनाया गया।

ISIS-K पर एयरस्ट्राइक

अमेरिकी सेना ने आईएसआईएस-के के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक किया है। ड्रोन से इस हमले को अंजाम दिया गया। अमेरिका ने काबुल ब्लास्ट में अपने सैनिकों की शहादत का बदला 48 घंटों के अंदर ले लिया। अमेरिका ने दावा किया है कि हमले में ISIS-K का मास्टरमाइंड मारा गया है।

बता दें कि काबुल सीरियल धमाकों के जवाब में अमेरिका ने ISIS-K पर एयर स्ट्राइक की है। ऐसी खबरें हैं कि एयर स्ट्राइक से ISIS-K को भारी नुकसान हुआ है। अमेरिकी ड्रोन से ISIS-K को निशाना बनाया गया।

मारे गए आतंकी

अमेरिकी सेना के प्रवक्ता नेवी कैप्टन बिल अर्बन ने कहा कि अफगानिस्तान के नांगरहार प्रांत में ISIS-K के ठिकानों पर अमेरिकी सेना द्वारा एयर स्ट्राइक किया गया। ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि हमने टारगेट को मार दिया है। उन्होंने कहा कि इस हमले में कोई आम नागरिक नहीं मारा गया।

बता दें कि अमेरिका की नेशनल सिक्योरिटी टीम ने राष्ट्रपति बाइडेन से मिलकर काबुल एयरपोर्ट पर सुरक्षा और बढ़ाने की बात कही है। अमेरिका काबुल एयरपोर्ट पर सुरक्षा को और कड़ी करने जा रहा है। इससे पहले अमेरिका ने काबुल एयरपोर्ट पर हमले की आशंका जताई थी और अपने नागरिकों को एयरपोर्ट से दूर रहने की सलाह दी थी।

अमेरिका ने जिस नांगरहार में एयर स्ट्राइक की है, उसे आईएसआईएस के आतंकियों का गढ़ माना जाता है। यह इलाका अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बॉर्डर पर स्थित है। अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबान ने जेल में बंद कई आतंकियों को छोड़ दिया जिसमें ISIS-K के आतंकी के भी शामिल होने की खबर है।

See also  काबुल पर कब्जे के बाद चीन ने तालिबान से साधा कूटनीतिक संपर्क, क्या हैं मायने