Amravati Murder Case: उदयपुर, अमरावती घटना से आक्रोशित लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन

उदयपुर,अमरावती में विधर्मियों द्वार जिहादी आतंकित मानसिकता से किए गए जघन हत्या एवं देश के विभिन्न हिस्सों में हिन्दु बंधुओं को चिन्हित कर के हत्या की मानसिकता से उनके उपर हो रहे हमला और जान से मारने की धमकियों के विरूध विरोध प्रदर्शन किया गया।

Amravati Murder Case: उदयपुर,अमरावती में विधर्मियों द्वार जिहादी आतंकित मानसिकता से किए गए जघन हत्या एवं देश के विभिन्न हिस्सों में हिन्दु बंधुओं को चिन्हित कर के हत्या की मानसिकता से उनके उपर हो रहे हमला और जान से मारने की धमकियों के विरूध विरोध प्रदर्शन किया गया।

फर्रुखनगर तहसील के सभी गांवों के हिन्दु बंधुओ ने प्रदर्शन में हिस्सा लिया । इस प्रदर्शन में मातृशाक्ति भी सहभागी हुई । फर्रुखनगर में दिन प्रतिदिन लव जिहाद की घटनाएं बढती जा रही है।

उदयपुर,अमरावती में विधर्मियों द्वार जिहादी आतंकित मानसिकता से किए गए जघन हत्या एवं देश के विभिन्न हिस्सों में हिन्दु बंधुओं को चिन्हित कर के हत्या की मानसिकता से उनके उपर हो हमला और जान से मारने की धमकियों के विरूध विरोध प्रदर्शन किया गया। #IamKanhaiyaHindu pic.twitter.com/ZrbbOd3cFU

— #प्रशासक_समिति🚩💯 हिमांशु(TTS) (@Himanshukr78726) July 10, 2022

इन जिहदी आतंकी घटनाओं एवं न्याय में हो रहे देरी के कारण सभी लोगों में आक्रोश था। वक्ताओ ने इन सभी विन्दुओं पर ध्यान केंद्रित करवाते हुए संगठिट रहने का आवाहन किया । उन्होने बताया की संगठन में ही शक्ती है, दुनिया शक्ती को ही पूजती है।

“मन की व्यथा समेट, नहीं तो अपनेपन से हारेगा। मर जायेगा स्वयं, सर्प को अगर नही मारेग।।” कविता की इन पंक्तिओं और गीता के कुछ स्लोको द्वार वक्ताओं ने अपने विषय को स्पष्ट रूप से रखा।

प्रदर्शन का शुरुआत शिश्महल से कर के, बस स्टैंड होते हुए फाजिलपुर मोड़ पर समापन किया गया। प्रदर्शन में हिस्सा लेने वाले प्रमुख बन्धु – दौलतराम जी, सत्यनारायण जी, जितेन्द्र जी,सविन्द्र जी, पंकज जी, जगवीर जी, सूबेसिंह जी, धासूआर्य जी, आयुष जी, तुषार जी, सिद्धार्थ जी एवं समाज के अन्य लोग सहभागी हुए।

See also  Gandhi Jayanti 2021: राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने महात्मा गांधी और लाल बहादूर शास्त्री को श्रद्धांजलि अर्पित की

लेख: तरुण