शंख बजाने के फायदे क्या होते हैं? शंख बजाने के इन फायदों को जानें

शंख को विघ्नों को दूर करने वाला बताया गया है। इसके द्वारा हम सदैव पीड़ा देने वाली अलक्ष्मी को भी तिरस्कृत कर देते हैं। शंख के द्वारा हम समस्त रोगों तथा विवेकहीनता को दूर कर सकते हैं।

शंख बजाने के फायदे

शंख बजाने के फायदे – मंदिर में पूजा के दौरान शंख बजाया जाता है। हिंदू धर्मशास्त्रों में पूजा के वक्त शंख बजाना आवश्यक माना गया है। शंख बजाने के आध्यात्मिक के साथ-साथ मानसिक और शारीरिक तौर पर भी लाभ मिलते हैं। शंख बजाने से जहां-जहां तक इसकी ध्वनि जाती है सिर्फ वहीं तक का वातावरण शुद्ध नहीं होता बल्कि आपके शरीर के भी कई रोग-दोष भी समाप्त हो जाते हैं।

शंख बजाने के फायदे

शंख बजाने के कई फायदे होते हैं। कई बार आपने देखा होगा कि शंख की ध्वनि सुनने के बाद आपको कुछ अलग सा महसूस होता है। शंख को बजाने के लिए बॉडी पर बहुत ज्यादा जोर लगाना पड़ता है। यही प्रेशर शरीर को अलग-अलग तरीकों से फायदा पहुंचाता है।

शंख को विघ्नों को दूर करने वाला बताया गया है। इसके द्वारा हम सदैव पीड़ा देने वाली अलक्ष्मी को भी तिरस्कृत कर देते हैं। शंख के द्वारा हम समस्त रोगों तथा विवेकहीनता को दूर कर सकते हैं।

शंख बजाने से होने वाले लाभ

1. शंखनाद करने से हमारे फेफड़े मजबूत होते हैं। शंख फूंकने से गले और फेफड़ों में रोग नहीं होता हैं।

2. शंख बजाने से शरीर के सभी हिस्सों में वायु का प्रवाह अच्छी तरह से होता है। इससे शरीर निरोगी बनता है।

3. पेट दर्द, आंतों में सूजन, अल्सर या पेट में घाव हो तो शंख में रातभर पानी भरकर रख दें। सुबह उठकर खाली पेट इस पानी को पीने से लाभ होता है।

4. शंख बजाने से स्मरण शक्ति बढ़ती है। इस बात का ध्यान रखें कि यदि आपको हार्निया, हाई ब्लड प्रेशर और ग्लूकोमा की शिकायत है तो शंख न बजाएं। यह हानि पहुंचा सकता है। आप चाहें तो डॉक्टर की उचित सलाह ले सकते हैं।

See also  बिहार के 6 शहरों में पानी में मिला यूरेनियम, मानव जीवन के लिए होता है खतरनाक