लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप की बड़ी घोषणा, जल्द देंगे RJD से इस्तीफा

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेज प्रताप यादव ने बड़ी घोषणा की है। उन्होंने आरजेडी से इस्तीफा देने की बात कही है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मैंने अपने पिता के नक्शे कदम पर चलने का काम किया। सभी कार्यकर्ताओं को सम्मान दिया जल्द अपने पिता से मिलकर अपना इस्तीफा दूंगा।

Tej Pratap Yadav News

पटना। राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेज प्रताप यादव ने बड़ी घोषणा की है। उन्होंने आरजेडी से इस्तीफा देने की बात कही है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मैंने अपने पिता के नक्शे कदम पर चलने का काम किया। सभी कार्यकर्ताओं को सम्मान दिया जल्द अपने पिता से मिलकर अपना इस्तीफा दूंगा।

तीन दिन पहले ही तेज प्रताप यादव को पूर्व सीएम और उनकी मां राबड़ी देवी के आवास पर देखा गया था। वे यहां इफ्तार पार्टी में शामिल होने पहुंचे थे। इसी बीच राजद के एक नेता ने सोमवार को आरोप लगाया कि पार्टी के वरिष्ठ नेता और लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने राबड़ी देवी के आवास के एक कमरे में उन्हें पीटा। आरजेडी के पटना महानगर युवा अध्यक्ष रामराज यादव ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि तीन दिन पहले इफ्तार पार्टी के दौरान राबड़ी देवी के आवास पर तेज प्रताप ने उन्हें एक कमरे में बंद कर मारपीट की और वीडियो बना लिया। रामराज ने कहा कि वह तब से सदमे में हैं। पार्टी नेताओं द्वारा घटना का संज्ञान लेने से इनकार करने के बाद उन्होंने पार्टी से अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

तेज प्रताप नहीं चाहते तेजस्‍वी राजनीति करें

रामराज यादव ने आरोप लगाया कि तेज प्रताप यादव ने उसे राष्‍ट्रीय जनता दल छोड़ने का दबाव बनाकर मारपीट की। तेजस्‍वी यादव पर गंभीर आरोप लगाते हुए युवा राजद कार्यकर्ता ने कहा कि तेज प्रताप यादव ने उन पर पार्टी छोड़ने को कहा वर्ना वो 10 दिन में गोली मरवा देंगे। तेज प्रताप पर 10 सर्कुलर रोड में कमरे में बंद कर मारपीट की बात बताते हुए रामराज यादव ने कहा कि तेज प्रताप ने तेजस्‍वी यादव के खिलाफ भी अपशब्‍द का प्रयोग किया, लालू यादव के खिलाफ अपशब्‍द कहा और कहा कि तुम छात्र राजद छोड़कर छात्र जनशक्ति परिषद चले जाओ।

See also  जावेद अख्तर को शिवसेना ने दिया जवाब, आरएसएस और तालिबान की तुलना स्वीकार नहीं

इतना ही नहीं रामराज यादव ने मीडिया को बताया कि तेज प्रताप यादव नहीं चाहते कि तेजस्वी यादव राजनीति करें। तेज प्रताप ने जगदानंद सिंह को भी अपशब्द कहा। इसलिए वह आज प्रदेश कार्यालय पहुंचकर प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह से मिल कर इस्‍तीफा देने आया है।