तिहाड़ जेल में कैदियों के बीच हुई खूनी झड़प, तीन कैदी हुए घायल

सूचना मिलने के बाद हरिनगर थाना पुलिस अस्पताल पहुंची। जहां घायल कैदी सुमित दत्त के बयान पर पुलिस ने हत्या का प्रयास सहित कई धाराओं में केस दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

तिहाड़ जेल में झड़प

तिहाड़ जेल में 11 सितंबर की रात को जेल संख्या 3 में कैदियों के बीच खूनी झड़प हो गई। यह खबर आज खबरों में आई है। इस खूनी झड़प में जेल में बंद तीन कैदी घायल हो गए। घायलों को अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया।

सूचना मिलने के बाद हरिनगर थाना पुलिस अस्पताल पहुंची। जहां घायल कैदी सुमित दत्त के बयान पर पुलिस ने हत्या का प्रयास सहित कई धाराओं में केस दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि 11 सितंबर को रात दस बजे दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल से सूचना मिली कि जेल संख्या तीन में बंद विचाराधीन कैदी सुमित दत्त के साथ मारपीट की गई है। उसे घायल अवस्था में यहां लाया गया है। पता चला कि सुमित के ऊपर चाकू से वार किया गया था।

पुलिस ने जब सुमित से पूछताछ की तो उसने बताया कि कालू व बिलौठा नाम के कैदियों की उससे लड़ाई हुई थी। इस दौरान उसके शरीर पर धारदार हथियार से वार किए गए। सुमित की हालत को देखते हुए उसे डीडीयू से सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया।

इस पूरे प्रकरण में छानबीन के आधार पर पुलिस ने हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। उधर जेल प्रशासन का कहना है कि दो घायलों को उपचार के बाद वापस जेल भेज दिया गया है। पूरे मामले की छानबीन हो रही है।

See also  लखीमपुर हिंसा को लेकर किसान अड़े, बोले - दोषियों की गिरफ्तारी के बाद ही होगा अंतिम संस्कार