नवजोत के नखरे नहीं सहेगी कांग्रेस, कांग्रेस ने विकल्प पर विचार करना शुरू किया

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पार्टी आलाकमान नवजोत सिंह सिद्धू के रवैए से बेहद ही नाराज हैं और इसको लेकर के अभी तक दोनों पक्षों के बीच कोई बातचीत नहीं हो पाई है। ऐसा माना जा रहा है कि पार्टी सिद्धू को अब नहीं मनाएगी।

नवजोत सिंह सिद्धू

पंजाब में सियासी घमासान जारी है। बीते दिनों नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस के पंजाब इकाई से अपने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद कांग्रेस एक बार फिर मुश्किल में घिर गई है। हालांकि इस बार कांग्रेस ने सिद्धू को ज्यादा भाव नहीं दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पार्टी आलाकमान नवजोत सिंह सिद्धू के रवैए से बेहद ही नाराज हैं और इसको लेकर के अभी तक दोनों पक्षों के बीच कोई बातचीत नहीं हो पाई है। ऐसा माना जा रहा है कि पार्टी सिद्धू को अब नहीं मनाएगी।

खबर यह भी है कि कांग्रेस पार्टी ने पंजाब में नए प्रदेश अध्यक्ष के लिए मंथन शुरू कर दिया है और इस दौर में सबसे आगे जिस व्यक्ति का नाम चल रहा है वह है रवनीत सिंह बिट्टू। हालांकि इन सबके बीच अभी तक कांग्रेस पार्टी ने नवजोत सिंह सिद्धू का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है।

मीडिया खबरों में ऐसी अटकलें थी कि पंजाब प्रभारी हरीश रावत बुधवार को चंडीगढ़ जा सकते हैं लेकिन फिलहाल उनका दौरा भी टाल दिया गया है। इस घटना के बाद एक बात तो स्पष्ट हो जाती है कि इस बार कांग्रेस पार्टी नवजोत सिंह सिद्धू की ओर से हुई किरकिरी को कतई बर्दाश्त नहीं करेगी।

खबरों के मुताबिक सिद्धू का इस्तीफा कांग्रेस पार्टी ने इसलिए स्वीकार नहीं किया है क्योंकि पार्टी उन्हें अभी वक्त देना चाहती है। लेकिन अगर सिद्धू नहीं माने तो पार्टी की तरफ से उनके ऊपर सख्त कार्रवाई भी की जा सकती है। दूसरी तरफ मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कैबिनेट की बैठक बुलाई है। खबरों की माने तो आज बुलाई गई कैबिनेट बैठक में जो मंत्री शामिल नहीं होंगे उनपर भी कांग्रेस की तरफ से कार्रवाई की जा सकती है।

See also  5 राज्यों में चुनाव : कांग्रेस पार्टी में फुसफुसाहट, क्या हो सकती है नयी रणनीति