कांग्रेस को डबल झटका! नवजोत सिंह सिद्धू ने दिया इस्तीफा, अमरिंदर सिंह मिलेंगे अमित शाह से

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि मैंने पहले ही कहा था कि सिद्धू स्थिर आदमी नहीं हैं। वह सीमावर्ती राज्य के लिए फिट नहीं हैं। बताया जा रहा है कि सिद्धू पंजाब के एडवोकेट जनरल के पद पर एपीएस देयोल की नियुक्ति से नाराज थे।

नवजोत सिंह सिद्धू का इस्तीफा

कांग्रेस में राजनीतिक घटनाक्रम बहुत ही तेजी से बदल रहा है। सूचना है कि पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवरोज सिंह सिद्धू ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। सिद्धू ने सोनिया गांधी को इस संबंध में पत्र लिखकर सूचना दी है। साथ ही उन्होंने ट्विटर पर भी इस पत्र को साझा किया है।

पत्र लिखकर सिद्धू ने कहा कि वह कंप्रोमाइज नहीं कर सकते हैं, इसलिए वह पार्टी के प्रदेश प्रधान पद से इस्तीफा दे रहे हैं। बता दें कि सिद्धू ने कुछ माह पहले ही पंजाब में पार्टी की कमान संभाली थी।

इस बीच कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि मैंने पहले ही कहा था कि सिद्धू स्थिर आदमी नहीं हैं। वह सीमावर्ती राज्य के लिए फिट नहीं हैं। बताया जा रहा है कि सिद्धू पंजाब के एडवोकेट जनरल के पद पर एपीएस देयोल की नियुक्ति से नाराज थे।

देयोल बेअदबी मामलों में सरकार के खिलाफ केस लड़ चुके हैं। इसके अलावा वह कैप्टन अमरिंदर सिंह व पूर्व डीजीपी सुमेध सिंह सैनी का केस भी लड़ चुके हैं। सिद्धू नहीं चाहते थे कि देयोल को एजी का पद दिया जाए।

एक तरफ नवजोत सिंह सिद्धू ने इस्तीफा दे दिया है तो दूसरी तरफ कैप्टन अमरिंदर सिंह आज गृहमंत्री अमित शाह से मिलने वाले हैं। कांग्रेस के लिए यह किसी विकट समस्या से कम नहीं है। कांग्रेस के लिए आगे खाई और पीछे कुंआ वाली स्थिति बन चुकी है।

पार्टी में काफी जिद्दोजहद के बाद सीएम के रूप में चौथे चेहरे चरणजीत सिंह के नाम पर मोहर लगी। चन्नी ने अब सीएम पद की कमान संभाल ली है। वह अपने मंत्रिमंडल का गठन भी कर चुके हैं। नवजोत सिंह सिद्धू को उम्मीद थी कि पार्टी हाईकमान उन्हें अगले सीएम के रूप में पेश करेगा। लेकिन ऐसा हो न सका।

See also  बीजेपी ने घोषित की अपनी नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी, मिथुन को जगह और वरुण गांधी बाहर