क्या महाराष्ट्र में आ गई है तीसरी लहर? CM Uddhav Thackeray ने की लोगों से ये अपील

उद्धव ठाकरे ने एक बयान में कहा कि हम बाद में पर्व मना सकते हैं। हम अपने नागरिकों की जिंदगी और स्वास्थ्य को प्राथमिकता देनी चाहिए। दैनिक मामलों में वृद्धि के मद्देनजर हालात नियंत्रण से बाहर जा सकते हैं।

महाराष्ट्र में कोरोना

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने राज्य के सभी राजनीतिक दलों से अपील की है कि वे राज्य में कोविड-19 के रोजाना आने वाले केसों में हल्की वृद्धि के मद्देनजर भीड़ जमा करने से बचें। उन्होंने राज्य में तत्काल विरोध-प्रदर्शन, जनसभा और अन्य कार्यक्रमों पर रोक लगाने को कहा है।

उद्धव ठाकरे ने एक बयान में कहा कि हम बाद में पर्व मना सकते हैं। हम अपने नागरिकों की जिंदगी और स्वास्थ्य को प्राथमिकता देनी चाहिए। दैनिक मामलों में वृद्धि के मद्देनजर हालात नियंत्रण से बाहर जा सकते हैं।

उन्होंने कहा कि कौन पर्व मनाने और धार्मिक कार्यक्रमों पर रोक लगाना चाहता हैं लेकिन लोगों की जिंदगी अहम है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाला समय अहम और चुनौतीपूर्ण है। यह राजनीतिक दलों की जिम्मेदारी है कि स्थिति नियंत्रण से बाहर नहीं जाए।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 की तीसरी लहर आपके दरवाजे पर खड़ी है। केरल का हवाला देते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि केरल में रोजाना 30 हजार मामले आ रहे हैं। यह खतरनाक संकेत हैं और अगर हमने इसे गंभीरता से नहीं लिया तो महाराष्ट्र को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी।

बता दें कि देश में कोरोना के नए मामलों में थोड़ी कमी दर्ज की गयी है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के कुल 38 हजार, 948 नए मरीज सामने आए हैं। इसमें 26 हजार 701 मरीज सिर्फ केरल से रिपोर्ट हुए हैं। इस दौरान केरल में 74 मरीजों की मौत हुई है।

पिछले 24 घंटे में देश में इस बीमारी से 219 लोगों की मौत हुई है, जबकि स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 43 हजार, 903 है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में पॉजिटिविटी दर में थोड़ी बढ़ोतरी हुई है। पिछले 24 घंटे में पॉजिटिविटी दर 2.76 प्रतिशत रही है।

See also  Corona Update : विशेषज्ञ समिति ने कहा है कि कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों को वयस्कों के समान ही होगा जोखिम, विशेषज्ञों ने दिए बचाव के लिए ये सुझाव