बिहार में एसएचओ-दरोगा ने जज पर तान दी पिस्टल

बिहार में एसएचओ-दरोगा ने जज पर तान दी पिस्टल : अविनाश कुमार छेड़छाड़ के आरोपी को महिलाओं के कपड़े धोने के आरोप में 6 महीने की सजा देकर सुर्खियों में हैं

बिहार के मधुबनी जिले में एक पुलिस अधिकारी और उसके साथी ने एक जज पर पिस्तौल तान दी, बात यहीं नहीं रुकी। दोनों पुलिस अधिकारी जज के कक्ष में घुस गए और उनके साथ गाली-गलौज व मारपीट भी की, मामला झंझारपुर बिहेवियरल कोर्ट का है।

घोघडीहा थाने में तैनात थाना प्रभारी (एसएचओ) गोपाल प्रसाद और निरीक्षक (एसआई) अभिमन्यु कुमार एक शिकायत पर चल रही सुनवाई के लिए गुरुवार को न्यायाधीश अविनाश कुमार के समक्ष पेश हुए। सुनवाई के दौरान दोनों पुलिसकर्मियों ने जज पर हमला कर दिया। फिलहाल अभी तक घटना के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है।

इस साल सितंबर में जज अविनाश कुमार ने छेड़छाड़ के आरोपी को इस शर्त पर जमानत दी थी कि उसके गांव की सभी महिलाएं कपड़े धोकर प्रेस करें। आरोपी को लगातार छह माह तक यह सेवा नि:शुल्क दी जानी है। जज ने इसकी निगरानी की जिम्मेदारी गांव के पंच-सरपंच को सौंपी थी। 6 महीने पूरे होने पर दोषी को फ्री सर्विस का सर्टिफिकेट लेकर कोर्ट में जमा करने का भी आदेश दिया गया। आरोपी 20 साल का है और पेशे से धोबी है।

See also  लखीमपुर केस - क्राइम ब्रांच के सामने पेश नहीं हुआ आशीष मिश्र, दूसरा नोटिस भेजा गया