लखीमपुर खीरी हादसा- लखीमपुर खीरी में धारा 144 लागू, नेताओं को हाउस अरेस्ट किया गया

हिंसक झड़प में चार किसानों और एक पत्रकार समेत पांच अन्य की मौत के बाद से सूबे का ही नहीं देश का सियासी पारा गरमा गया है। समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, बसपा समेत तमाम दलों के बड़े नेता लखीमपुर खीरी जाकर किसानों से मिलने और मृतकों के परिजनों से संवेदना व्यक्त करने का ऐलान कर दिया। 

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में किसानों और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हुई हिंसक झड़प होने के बाद राजनीतिक दौरे और कानून व्यवस्था को देखते हुए जिला प्रशासन ने लखीमपुर खीरी में धारा 144 लागू कर दिया है। साथ ही छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश सिंह बघेल और पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर एस रंधावा के लखीमपुर खीरी जाने की सूचना के बाद दोनों को लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर उतरने की अनुमति नहीं दी गई है।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी की तरफ से इस संबंध में जारी निर्देश में कहा गया है कि लखीमपुर खीरी की घटना को देखते हुए जिलाधिकारी ने जिले में धारा 144 लागू की है। साथ ही यह भी सूचना मिली है कि छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री और पंजाब के उप मुख्यमंत्री आज लखीमपुर जाने के लिए लखनऊ एयरपोर्ट पहुंच रहे हैं। दोनों को ही अमौसी एयरपोर्ट न उतरने देने का कष्ट करें।

भूपेश बघेल ने किया ट्वीट

उधर योगी सरकार द्वारा रोके जाने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर लिखा, “उत्तर प्रदेश की सरकार मुझे राज्य में न आने देने का फरमान जारी कर रही है। क्या उत्तरप्रदेश में नागरिक अधिकार स्थगित कर दिए गए हैं? अगर धारा 144 लखीमपुर में है तो लखनऊ उतरने से क्यों रोक रही है तानाशाह सरकार?”

हिंसक झड़प में अब तक नौ की मौत

बता दें कि हिंसक झड़प में चार किसानों और एक पत्रकार समेत पांच अन्य की मौत के बाद से सूबे का ही नहीं देश का सियासी पारा गरमा गया है। समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, बसपा समेत तमाम दलों के बड़े नेता लखीमपुर खीरी जाकर किसानों से मिलने और मृतकों के परिजनों से संवेदना व्यक्त करने का ऐलान कर दिया।

See also  क्या है नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन? कैसे हर व्यक्ति इसका लाभ ले सकता है

रविवार शाम को प्रियंका गांधी पुलिस को चकमा देकर लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो गईं। हालांकि पांच घंटों की मशक्कत के बाद पुलिस ने उन्हें सीतापुर के हरगांव से हिरासत में ले लिया। इसके बाद लखीमपुर जाते हुए भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को भी हिरासत में ले लिया गया है। सोमवार सुबह आम आदमी पार्टी के राज्य सभा सांसद संजय सिंह को भी हिरासत में लिया गया है।

दूसरी तरफ लखनऊ में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आवास के बाहर भी भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। बैरिकेडिंग कर उन्हें एक तरह से नजरबंद कर दिया गया है। प्रगतिशील समाजवादी चीफ शिवपाल यादव को भी घर में नजरबंद कर दिया गया है। उन्हें घर से बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है।

बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा के घर पर भी भारी पुलिस बल की तैनाती की गई है।  इसके अलावा कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी, सलमान खुर्शीद और आराधना मिश्रा को भी हाउस अरेस्ट किया गया है।