Tokyo Paralympics: पैरालंपिक निशानेबाजी में मनीष नरवाल ने स्वर्ण और सिंहराज ने जीता रजत पदक

भारत के पैरा-शूटर मनीष नरवाल ने शूटिंग P4 मिक्स्ड 50 मीटर पिस्टल SH1 इवेंट में जहां स्वर्ण पदक अपने नाम किया, तो वहीं सिंहराज ने रजत पदक जीता। बता दें, क्वॉलिफिकेशन राउंड में 536 अंकों के साथ सिंहराज चौथे नंबर पर जबकि मनीष नरवाल 533 अंकों के साथ सातवें स्थान पर रहे थे।

मनीष नरवाल का गोल्ड मेडल

Tokyo Paralympics: भारत के लिए टोक्यो पैरालंपिक में आज के दिन की शानदार शुरुआत हुई है। एक तरफ जहां आज बैडमिंटन में दो पदक पक्के हुए हैं, वहीं निशानेबाजी में भारत ने एक स्वर्ण और एक रजत पर कब्जा किया है।

भारत के पैरा-शूटर मनीष नरवाल ने शूटिंग P4 मिक्स्ड 50 मीटर पिस्टल SH1 इवेंट में जहां स्वर्ण पदक अपने नाम किया, तो वहीं सिंहराज ने रजत पदक जीता। बता दें, क्वॉलिफिकेशन राउंड में 536 अंकों के साथ सिंहराज चौथे नंबर पर जबकि मनीष नरवाल 533 अंकों के साथ सातवें स्थान पर रहे थे।

मनीष नरवाल ने 218.2 का स्कोर कर पहला स्थान हासिल किया तो वहीं सिंहराज 216.7 के स्कोर के साथ दूसरे स्थान पर रहे। गौरतलब है कि इस पैरालंपिक में 39 साल के सिंहराज का यह दूसरा पदक है। इससे पहले उन्होंने 10 मीटर एयर पिस्टल SH1 में कांस्य पदक जीता था,जबकि अवनि लखेरा के पास भी दो पदक हैं। उन्होंने स्वर्ण के अलावा कांस्य जीता है।

मौजूदा पैरालंपिक में भारत ने अब तक 15 पदक जीते हैं।भारत के खाते में अब 3 स्वर्ण, 7 रजत और 5 कांस्य पदक हैं। यह पैरालंपिक के इतिहास में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। रियो पैरालंपिक (2016) में भारत ने 2 स्वर्ण सहित 4 पदक जीते थे।

अवनि लेखरा ने जीता था दो पदक

इससे पहले टोक्यो पैरालंपिक में भारत की शूटर अवनि लेखरा ने दो-दो धमाका किया था। 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में पहले ही गोल्ड मेडल अपने नाम कर चुकीं अवनि ने 50 मीटर राइफल में भी ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था। क्वालीफायर में अवनि ने दूसरी पोजीशन पर रहते हुए फाइनल में अपनी जगह बनाई थी।

See also  Shane Warne Death: ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज क्रिकेटर शेन वॉर्न का हार्ट अटैक से निधन

अवनि लेखरा को शानदार प्रदर्शन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बधाई दी थी। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘टोक्यो पैरालंपिक में और अधिक गौरव। प्रफुल्लित हूं अवनि लेखरा के जबरदस्त प्रदर्शन से। उनको ब्रॉन्ज मेडल घर लाने के लिए बधाई हो। भविष्य के लिए उनको शुभकामनाएं।’