काबुल एयरपोर्ट पर सीरियल ब्लास्ट में अबतक 100 से ज्यादा की मौत, पहले फायरिंग फिर धमाका

काबुल एयरपोर्ट पर हुए सीरियल ब्लास्ट में अबतक 100 से ज्यादा लोगों की मौत की खबर है। कई लोग घायल हुए हैं। घटना उस वक्त हुआ जब एयरपोर्ट पर हजारों की संख्या में लोग देश छोड़ने के लिए खड़े थे।

काबुल एयरपोर्ट ब्लास्ट

अफगानिस्तान में तालिबानी राज आने के बाद अब उसका असर दिखने लगा है। दुनिया को जिस बात की आशंका थी वो अब सच साबित होने लगी है। काबुल एयरपोर्ट पर हुए सीरियल ब्लास्ट में अबतक 100 से ज्यादा लोगों की मौत की खबर है। कई लोग घायल हुए हैं।

घटना उस वक्त हुआ जब एयरपोर्ट पर हजारों की संख्या में लोग देश छोड़ने के लिए खड़े थे। इन हमलों में पूरी दुनिया को हिला दिया है। जिस एयरपोर्ट पर लोग अन्य जगहों के मुकाबले सुरक्षित महसूस कर रहे थे, वहीं पर हुए हमले ने सैकड़ों लोगों की जान ले ली।

खबरों के अनुसार, धमाका स्थानीय समयानुसार करीब शाम 6 बजे हुआ। घटना बैरन होटल के पास हुआ। बताया जा रहा है कि ये होटल एयरपोर्ट के बिल्कुल नज़दीक है। होटल में बड़ी संख्या में ब्रिटिश अधिकारी रुके हुए थे, जो रेस्क्यू अभियान चला रहे थे।

ब्लास्ट होने के बाद भगदड़ मची और लोग इधर-उधर भागने लगे। धमाके के तुरंत बाद ही घटनास्थल पर गोलीबारी शुरू हो गई और देखते ही देखते एयरपोर्ट के आबे गेट के पास एक और धमाका हो गया। बताया जा रहा है कि आबे गेट एयरपोर्ट का मुख्य एंट्री गेट है। यहां पर बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एंट्री गेट पर कई अमेरिकी सैनिक थे, जिनकी ब्लास्ट में मौत हो गई। काबुल एयरपोर्ट पर ब्लास्ट के बाद दुनिया ने इस हमले की निंदा की। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि हम जिम्मेदारों को खोजकर सजा देंगे। अमेरिकी सैनिकों की शहादत के बाद अमेरिका ने अपना झंडा सैनिकों के सम्मान में झुका दिया है।

See also  तालिबान का साइड इफेक्ट: मोदी सरकार सुन लो, दिल्ली में फहराएंगे पाकिस्तान का झंटा