कोरोना के बाद रहस्यमयी बुखार का कहर, यूपी और एमपी में हजारों बच्चे बीमार

यूपी में सबसे ज्यादा कहर फिरोजाबाद जिले में देखने को मिला है। इसके अलावा मुरादाबाद, मऊ इटावा और प्रयागराज में बच्चों में यह फैल चुका है। यूपी में स्थिति बदतर होने लगी है। मुरादाबाद में डेंगू और वायरल बुखार के मरीज सरकारी अस्पतालों के बाहर लाइन लगाए खड़े हैं।

यूपी में रहस्यमयी बुखार

देश के कई राज्यो में कोरोना के बाद रहस्यमयी बुखार ने फिर से एक नया खतरा पैदा कर दिया है। यूपी इससे निपटने की कोशिश में लगा है। यह जानलेवा बुखार अबतक एमपी और बिहार में भी पहुंच गया है।

यूपी के फिरोजाबाद में 105 नए बुखार के मरीज अस्पताल में भर्ती हुए तो वहीं मध्य प्रदेश के भोपाल में ही 200 से ज्यादा बच्चे इस रहस्यमयी बुखार से संक्रमित हो चुके हैं। बिहार के 4 जिलों में 400 से ज्यादा मरीज बुखार के मिले हैं।

यूपी में सबसे ज्यादा कहर फिरोजाबाद जिले में देखने को मिला है। इसके अलावा मुरादाबाद, मऊ इटावा और प्रयागराज में बच्चों में यह फैल चुका है। यूपी में स्थिति बदतर होने लगी है। मुरादाबाद में डेंगू और वायरल बुखार के मरीज सरकारी अस्पतालों के बाहर लाइन लगाए खड़े हैं।

कासगंज में अब तक 11 की मौत

वायरल बुखार से यूपी के कासगंज में अबतक 11 बच्चों की मौत हो चुकी है। जिला प्रशासन इस रहस्यमयी बीमारी से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर काम कर रहा है। वहीं स्वास्थ्य विभाग ने दावा किया है कि जिले में अभी तक कोई भी डेंगू का केस नहीं मिला है।

डॉक्टरों का कहना है कि समय से अगर इलाज शुरू कर दिया जाए तो बचाव संभव है, लेकिन देरी होने के बाद यह जानलेवा हो सकता है। इस रहस्यमयी बुखार पर अब यूपी में राजनीति भी शुरू हो गई है।

बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने योगी सरकार पर अस्पतालों में उचित इंतजाम नहीं होने का आरोप लगाया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘यूपी में कोरोना महामारी के बीच डेंगू और दूसरी रहस्यमयी बुखार का प्रकोप भी यहां बड़ी तेजी से लगभग पूरे प्रदेश को अपने चपेट में ले रहा है। सरकार इस ओर जरूर ध्यान दें।’

See also  क्या महाराष्ट्र में आ गई है तीसरी लहर? CM Uddhav Thackeray ने की लोगों से ये अपील