पंजाब: 15 सितंबर तक सभी कर्मचारियों को लगाना होगा टीका, नहीं तो घर बैठना होगा

कोरोना के खिलाफ जंग में पंजाब सरकार ने राज्य के कर्मचारियों को 15 सितंबर तक वैक्सीन की कम से कम एक डोज लेने को कहा है। यदि कोई कर्मचारी 15 सितंबर तक वैक्सीन की पहली डोज नहीं लेता है तो फिर उसे जबरन छुट्टी पर भेज दिया जाएगा।

पंजाब में कोरोना वैक्सीन

कोरोना के खिलाफ जंग में पंजाब सरकार ने राज्य के कर्मचारियों को 15 सितंबर तक वैक्सीन की कम से कम एक डोज लेने को कहा है। यदि कोई कर्मचारी 15 सितंबर तक वैक्सीन की पहली डोज नहीं लेता है तो फिर उसे जबरन छुट्टी पर भेज दिया जाएगा।

हालांकि उन कर्मचारियों को राहत दी जाएगी जिन्हें हाल ही में कोरोना हुआ हो या जिन्हें टीका लगवाने से मना किया गया हो। इसके साथ ही अन्य मेडिकल कारणों से भी टीका न लगवा पाने वाले को राहत दी गई है।

लेकिन किसी स्वस्थ कर्मचारी को 15 सितंबर तक एक डोज लेनी होगी। ऐसा नहीं करने पर उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी और उन्हें छुट्टी पर भेज दिया जाएगा। इस साथ ही सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कोरोना से जुड़ी पाबंदियों को भी 30 सितंबर तक बढ़ाने का फैसला लिया है।

इस दौरान किसी भी आयोजन में 300 से ज्यादा लोगों के जुटने पर रोक लगा दी गई है। सोशल डिस्टेंसिंग पालन करना और मास्क पहनना पहले की तरह ही जारी रहेगा।

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि स्वास्थ्य कारणों को छोड़कर यदि 15 सितंबर तक राज्य सरकार के कर्मचारियों ने कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक भी नहीं ली होगी, तो ऐसे कर्मचारियों को अनिवार्य रूप से छुट्टी पर भेज दिया जाएगा।

See also  Indian Railway: छठ पूजा और दीपावली के लिए चलेंगी स्पेशल ट्रेनें, देखें लिस्ट