पंजाब में कांग्रेस को झटका, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिया इस्तीफा, कहा- खुले हैं सभी विकल्प

राजभवन के बाहर मीडिया से बातचीत में कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि पिछले दो महीने में यह तीसरी बार होगा कि विधायकों बैठक होगी। मेरे सरकार चलाने पर संशय पैदा किया गया। मैं अपमानित महसूस कर रहा था और इसी कारण इ्रस्‍तीफा देने का फैसला किया।

कैप्टन अमरिंदर सिंह का इस्तीफा

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले सीएम पद से इस्‍तीफा दे दिया। राजभवन पहुंच कर उन्होंने राज्यपाल को इस्तीफा सौंपा। उन्होंने कहा कि सुबह ही कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपने इस्तीफे की जानकारी दे दी थी।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि मेरा अपमान किया गया। सरकार चलाने को लेकर मुझपर संदेह किया गया। मैं अपने समर्थकों के साथ बैठक कर भविष्य की रणनीति तय करूंगा। इस्तीफा सौंपने के वक्त कैप्टन के साथ चीफ प्रिंसिपल सेक्रेटरी सुरेश कुमार, सांसद पत्नी परनीत कौर व अन्य वरिष्ठ सहयोगी भी थे।

राजभवन के बाहर मीडिया से बातचीत में कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि पिछले दो महीने में यह तीसरी बार होगा कि विधायकों बैठक होगी। मेरे सरकार चलाने पर संशय पैदा किया गया। मैं अपमानित महसूस कर रहा था और इसी कारण इ्रस्‍तीफा देने का फैसला किया।

उन्‍होंने कहा, कहना चाहता हूं कि मैंने इस्तीफा दे दिया है। मेरी भविष्‍य की राजनीति के सभी विकल्प खुले हैं। मैं उसको यूस कर सकता हूं। मैं अपने साथियों के साथ बैठक कर भविष्‍य की रणनीति तय करुंगा।

कैप्‍टन अमरिंदर ने कहा, मैं कांग्रेस में ही हूं। अपने साथियों से बात करूंगा फिर अपना भविष्य की रणनीति तय करूंगा। कैप्टन ने स्पष्ट किया कि मैंने केवल मुख्‍यमंत्री पद इस्तीफा दिया है। कैप्टन ने कहा कि जिस तरह की बातें हो रही थीं उससे मैं पिछले काफी समय से अपमानित महसूस कर रहा था।

पंजाब में अगला मुख्यमंत्री का चुनाव होने तक कैप्टन अमरिंदर सिंह कार्यकारी मुख्यमंत्री बने रहेंगे। उधर कांग्रेस विधायक दल की बैठक में एक प्रस्‍ताव पारित कर पार्टी विधायक दल का नया नेता व अगला मुख्‍यमंत्री चुनने का अधिकार पार्टी की राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सोनिया गांधी को सौंप दिया गया।

See also  जावेद अख्तर को शिवसेना ने दिया जवाब, आरएसएस और तालिबान की तुलना स्वीकार नहीं

कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई। बैठक में दो प्रस्ताव पारित किए गए। बैठक में प्रस्ताव पारित कर कांग्रेस नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह को उनकी सेवाओं के लिए धन्यवाद दिया गया।

बैठक के बाद प्रस्ताव पारित कर मुख्यमंत्री चुनने का अधिकार कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को दिए जाने के बाद अब माना जा रहा है कि सोनिया गांधी जल्‍द ही कांग्रेस विधायक दल के नए नेता व पंजाब के अगले मुख्‍यमंत्री के नाम का ऐलान करेंगी।