उद्धव सरकार के मंत्री नवाब मलिक ने दी एनसीबी अधिकारी को धमकी, ‘एक साल में छिन जाएगी नौकरी, जेल में डालूंगा’, अधिकारी बोले- तैयार हूं

नवाब मलिका ने कहा, 'उनके पास एक कठपुतली है- वानखेड़े..वो लोगों के खिलाफ झूठे केस करते हैं। मैं चुनौती देता हूं कि एक साल के अंदर उनकी नौकरी छिन जाएगी और तुम जेल जाओगे।

नवाब मलिक

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के मंत्री नवाब मलिक ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के अफसर समीर वानखेड़े को धमकी दी है कि वो उन्हें जेल में बंद करा देंगे। आर्यन केस से चर्चा में आए वानखेड़े पर बॉलीवुड के लोगों से वसूली का आरोप लगाते हुए एनसीपी नेता ने धमकी दी है।

एनसीपी नेता ने दावा किया कि वानखेड़े इसके लिए दुबई और मालदीव गए थे। मलिक ने एनसीबी अधिकारी को जेल भेजने की भी धमकी दी। वानखेड़े ने मलिक के आरोपों को नकारते हुए कहा है कि देश से ड्रग्स की समस्या हटाने के लिए यदि उन्हें जेल भेजा जाता है तो वह तैयार हैं।

नवाब मलिका ने कहा, ‘उनके पास एक कठपुतली है- वानखेड़े..वो लोगों के खिलाफ झूठे केस करते हैं। मैं चुनौती देता हूं कि एक साल के अंदर उनकी नौकरी छिन जाएगी और तुम जेल जाओगे। इस देश के लोग आपको बिना जेल के अंदर देखे चुप नहीं बैठेंगे। हमारे पास फर्जी केसों का सबूत है।”

नवाब मलिक यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि हमें बताओ आपके आका कौन हैं, कौन है वो जो दबाव बना रहा है? नवाब मलिक किसी के पिता से नहीं डरता। जो भी दबाव आप मुझपर बनाना चाहते हैं बना लें। मैं तब तक नहीं रुकूंगा जब तक कि आपको जेल में ना डाल दूं।

बता दें कि नवाब मलिक ने आरोप लगाया था कि समीर वानखेड़े ने ड्रग्स के फर्जी मामलों में सेलिब्रिटीज को फंसाया और फिर उनसे जबरन वसूली की कोशिश की। महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने ट्वीट किया था कि सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड के बाद समीर वानखेड़े ने रिया चक्रवर्ती और दूसरे बॉलीवुड सितारों पर फर्जी ड्रग्स केस लगाया।

See also  नारायण राणे मामला: शिवसेना की सफाई, बदले की भावना से नहीं हुई गिरफ्तारी

इस मामले पर एनसीबी के ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘मुझ पर पिछले 15 दिन से पर्सनल अटैक हो रहा है। मेरी मृतक मां, मेरी बहन और सेवानिवृत्त पिता पर अटैक हो रहे हैं, इसकी मैं निंदा करता हूं। मैं दुबई नहीं गया था, यह झूठ है। सरकार को बताकर मालदीव गया था, अपने बच्चों के साथ। मैं सरकारी मुलाजिम हूं और अपना काम कर रहा हूं। ड्रग्स हटाने के लिए जेल जाना भी मंजूर है।